cholai saag
मेन कोर्स, सब्ज़ी

चौलाई साग की सूखी सब्जी (भुजिया) की रेसिपी

हरी सब्जियों की श्रेणी में आने वाला लालसा यानी चौलाई साग एक ऐसा साग है  जो कि लाल और हरे दोनों रंगों में आता है | 


यह हरे रगों वाली साग की रेसिपी आज मैं बताने वाली हूं |  इसे बनाना बहुत ही आसान है और यह स्वादिष्ट बना है | 

चौलाई साग सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है, या ना तो सिर्फ एक स्वादिष्ट सब्जी है बल्कि चौलाई साग विभिन्न रोगों को भी ठीक करता है| 

इस साग को बनाने में अब आपको कोई भी झंझट नहीं लगेगा अगर आप इस  रेसिपी को पूरा लास्ट तक पढ़ेंगे तो | 

इसमें मैंने ना तो कोई मसाले डाले हैं और ना ही प्याज लहसुन इसे मैं सिर्फ सरसों का तेल और हरी मिर्च के साथ बनाई हूँ | 

फिर भी यह बहुत ही स्वादिष्ट बनकर तैयार हुआ है तो एक बार आप लोग भी इस रेसिपी को जरूर ट्राई करिए खुद भी खाइये  और अपने दोस्तों को भी खिलाइए | 

इससे बनाकर आप रोटी के साथ सर्व करेंगे तो यह बहुत ही स्वादिष्ट लगेगा | 

चौलाई साग रेसिपी

5 from 1 vote
Recipe by Jyoti Jha Course: Sides, MainCuisine: IndianDifficulty: Easy
Cook Mode

Keep the screen of your device ON

Servings

4

servings
Prep time

10

minutes
Cooking time

20

minutes
Total time

30

minutes

चौलाई साग एक ऐसा साग  है जो हर मौसम में मिलता है  पर कई लोग इसे अपने घरों में नहीं  बनाते हैं | क्योंकि उन्हें बनाना नहीं आता है | उन्हें समझ में नहीं आता इसे कैसे बनाएं | 

जबकि इसे बनाना कोई मुश्किल काम नहीं है अगर आप इसे एक बार बनाना सीख लेंगे तो आपको बिल्कुल भी झंझट नहीं लगेगा |

तो आइए आज मैं आप लोगों को इसे बनाने की विधि बताती हूँ | 

Ingredients(सामग्री)

  •  चौलाई साग –  ½  किलो 

  •  नमक – ½ छोटी चम्मच  

  •  सरसों का तेल – 3 चम्मच  

  •  हरी मिर्च – 4 – 5 बारीक़ कटी हुई  

  • निम्बू का रस – 1 चम्मच  

Directions( बनाने की विधि)

  • सबसे पहले साग को धो लेंगे, और उसे छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लेंगे | अगर आपके पास ताजा साग है, तो आप इसे नहीं भी काट सकते हैं फिर भी यह  गल जाएगा बस काटने से गलने में टाइम कम लगता है | 
  • अब हम एक कराही लेंगे, उसे गर्म करेंगे और उसमें साग को डाल कर उसे लो फ्लेम पर 5 मिनट तक पकने देंगे | 
  • फिर इसका ढक्कन हटाकर इसमें नमक डालकर अच्छे से मिला देंगे और लो फ्लेम पर 15 से 20 मिनट तक पकाएंगे, जब तक की साग़ का पानी अच्छे से सुख नहीं जाता  | 
  • इसे बीच-बीच में ढक्कन हटाकर करछी चलाते रहेंगे जिससे साग अंदर (कड़ाही) में न चिपके नहीं तो इससे साग का टेस्ट खराब हो जाएगा | 
  • जब साग अंदर (कड़ाही) में हल्का-हल्का चिपकने लगेगा तब हम गैस को ऑफ कर देंगे |  
  • अब साग में कच्चा तेल और बारीक कटा हुआ हरी मिर्च (निम्बू का रस)डालकर अच्छे से मिक्स कर देंगे | नींबू के रस से या और भी स्वादिष्ट लगता है |
  • इसे किसी प्लेट में निकाल कर सर्व कर लेंगे | 

Notes

  •  अगर आपको खट्टा पसंद नहीं है या फिर आप खट्टा नहीं खाते हैं तो  नींबू के रस ना डालें | 

Did you make this recipe?

Like us on Facebook

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

*